सबल परियोजना

यह प्रगति फाउण्डेषन बिहार द्वारा संचालित महत्वकांक्षी परियोजना है जिसके माध्यम से महिलाओं को सशक्त कर महिला­सशक्तिकरण को आगे बढ़ाना है। इस परियोजना द्वारा महिलाओं के आजीविकाµउपार्जन हेतु सबलता प्रदान करना है जिससे उसके आर्थिक स्थिति मे सुधार हो तथा सशक्त बन सके। संस्था द्वारा संचालित कौशल विकास कार्यक्रम के माध्यम से संचालन की व्यवस्था के साथ साथ प्रषिक्षण देना प्रमुख लक्ष्य है। इस परियोजना के माध्यम से महिलाओं को विविध क्षेत्रो में कौशलो का विकास हेतु कौशल विकास कार्यक्रम के माध्यम से प्रषिक्षण प्रदान करना व तदोपरांत प्रषिक्षण प्रमाण पत्र प्रदान करना। इसके साथ ही प्राप्त प्रषिक्षण से संबधित व्यवसाय व आजीविका की स्थापना तथा संचालन हेतु सहयोग करना जिससे वे सबल हो सके।

परियोजना का उद्वेष्य:-
महिलाओं को समाजिक व आर्थिक गतिविधियों के माध्यम से कौषल विकास कार्यक्रम का संचालन व प्रषिक्षित करना।
म्हिलाओं के द्वारा निर्मित संगठन का प्र्रषिक्षण
म्हिलाओं के संगठन के सदस्यो का प्र्रषिक्षण उपरांत कुटीर व गृह उधेाग की स्थापना तथा संचालन करना ।ं
म्हिलाओं के समाजिक आर्थिक धार्मिक व राजनीतिक संबधित समस्या का निराकरण करने में सहायता प्रदान करना।
म्हिलाओं को आर्थिक स्वालंबी बनाना।
म्हिलाओं को प्र्रषिक्षण के उपरांत प्लेटफार्म बनाकर देना जिससे कुटीर एंव गा्रमीण घरेलु उधेाग को बढ़ावा मिले।
महिला संगठन के माध्यम से छोटे उत्पाद का उत्पादन करना।
महिला संगठन के सहयोग से निर्मित उत्पाद को बाजार तक पहँुचाना व बिक्री करना।

लाभार्थी वर्ग:-
संस्था के द्वारा संचालित प्रषिक्षण कार्यक्रम के माध्यम से प्रषिक्षित समूह व व्यक्ति ।

पात्रता/अर्हता:-
समूह संगठन का निर्माण/पूर्व से किसी छोटे कुटीर उधेाग में लगे होने का साक्ष्य।
बिहार राज्य का स्थायी/अस्थाई निवासी होना चाहिए।
संस्था द्वारा प्रायोजित परियोजना के तहत प्रषिक्षण प्राप्त करने हेतु नामांकन प्रक्रिया पूरा करना ।
संस्था द्वारा प्राप्त/प्रदत प्रषिक्षण उतीर्ण प्रमाण पत्र जो संस्था के जिला परियोजना पदाधिकारी द्वारा प्रमाणित हो ।
व्यवसाय स्थल का चयन ।
संस्था के द्वारा निर्मित समिति के सदस्यो द्वारा सत्यापित ।
आधारभूत संरचना का विकास हेतु संस्था द्वारा वित्तिय व्यवस्था व प्रबंधन।